BTA Course Details in Hindi: BTA कोर्स से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी

BTA Course Details in Hindi: आज के समय में भारत में बहुत ही ज्यादा बेरोजगारी है जिसके कारण भारत में कई स्टूडेंट ऐसे है जो एक बढ़िया कोर्स करके अपना अच्छा भविष्य बनाना चाहते है यदि आप भी इस बेरोजगारी के समय में एक अच्छा भविष्य बनाना चाहते है तो इस स्थितिमें बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) आपके लिए एक बढ़िया विकल्प हो सकता है आज हम इस आर्टिकल में आपको बीटीए कोर्स के बारे में विस्तार से बतायेंगे इस आर्टिकल में मुख्य रूप से बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एड्मिनिस्ट्रेशन (BTA) क्या होता है इस कोर्स की एडमिशन योग्यता क्या हो सकती है, BTA का पूरा नाम क्या है BTA कोर्स में विषय और बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) करने के फायदे क्या है और कई भी महत्वपूर्ण चीजों को विस्तार से बतायेंगे.

BTA Course Details in Hindi
BTA Course Details in Hindi

बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) क्या होता है?

बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) एक स्नातक स्तर का एक बेहतरीन कोर्स है इस कोर्स में टूरिज्म और ट्रेवल के बारे में पढ़ाया जाता है इस कोर्स को करने के बाद आपके पास टूरिज्म और ट्रेवल की मान्यता प्राप्त आधिकारिक डीग्री हो जाती है बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) के पाठ्यक्रममें स्टूडेंट्स को मुख्य रूप से टूरिज्म बिज़नस, टूरिज्म मार्केटिंग, फाइनेंसियल मैनेजमेंट, होटल मैनेजमेंट, टूरिज्म ऑपरेशनस और मार्केटिंग जैसी महत्वपूर्ण विषयों की उच्च शिक्षा दी जाती है इसके साथ साथ स्टूडेंट को कम्प्यूटर और तकनीकी प्रशिक्षण की भी जानकारी दिया जाता है.

बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) का कोर्स पूरा करने के बाद स्टूडेंट्स को होटल्स, ट्रेवल एजेंसीज, गवर्नमेंट आर्गेनाइजेशनस, और टूरिज्म डिपार्टमेंटस जैसी जगहों पर अच्छी नौकरी मिलती है BTA पास होने से स्टूडेंट्स को पर्यटन संबंधी कम्पनियों, होटलों, यात्रा एजेंसियों, सरकारी संगठनों, पर्यटन विभागों, और स्वतंत्र उद्योग में रोजगार के अवसर मिलते है BTA अध्ययन संबंधी पाठ्यक्रम विभिन्न विश्वविद्यालयों और संस्थानों में उपलब्ध हैं, यह एक उच्चतर शिक्षा का माध्यम है जो स्टूडेंट्स को व्यापक ज्ञान उद्यमिता, और नवीनतम प्रौद्योगिकीके साथ पर्यटन क्षेत्र में सफलता प्रदान करता है.

LLM कोर्स क्या है सम्पूर्ण जानकारी

BTA का पूरा नाम क्या होता है?

बीटीए का पूरा नाम बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन होता है यह एक स्नातक स्तर को कोर्स होता है बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) में स्टूडेंट को टूरिज्म और ट्रेवल के बारे में पढ़ाई करवाई जाती है इस कोर्स को करने के बाद आप अपने लिए एक अच्छे बेतन वाली नौकरी पा सकते है भारत में इस कोर्स के बारे में बहुत ही कम लोगों को जानकारी होती है.

BTA कोर्स में एडमिशन योग्यता क्या होती है

बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपके अंदर कई सारी योग्यता का होना जरूरी है कुछ महत्वपूर्ण योग्यता को हम नीचे बताने जा रहे है

  • बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं पास होना जरुरी है.
  • बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपकी उम्र 18 साल या उससे भी ज्यादा होनी चाहिए.
  • बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको 12वीं में 50% या उससे ज्यादा मार्क होना जरूरी है.
  • कुछ कॉलेज और संस्थानों में बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) कोर्स में एडमिशन लेने के लिए 12वीं मैथ, साइंस और कॉमर्स में से किसी एक से पास होना जरूरी है.
  • कई विश्वविद्यालय और संस्थानों में बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) में एडमिशन लेने के लिए प्रवेश परीक्षा भी देना पड़ता है प्रवेश परीक्षा पास होने पर ही आपका एडमिशन सकता है.

यदि आप ऊपर बताये गये योग्यताओं को फ़ॉलो करते है तो आप बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) कोर्स में आसानी से एडमिशन लेकर अपना एक अच्छा भविष्य बना सकते है.

BTA कोर्स की फीस अवधि क्या है?

बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) एक स्नातक स्तर का कोर्स एक कोर्स है इस कोर्स की अवधि 3 साल होती है यह कोर्स भारत के कई सारे कॉलेज और संस्थानों में करवाया जाता है बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) की फ़ीस हर एक कॉलेज और संस्थानों में अलग अलग होती है अगर बात करें बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) की एक औसत फ़ीस की तो वह 40000 – 70000 रु प्रति साल तक हो सकता है आप बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) के बारे में सटीक जानकारी आप जहाँ एडमिशन ले रहे है उससे सम्बन्धित विश्वविद्यालय या संस्था की वेबसाइट पर संपर्क करके पता कर सकते है.

ITI Trade details in Hindi

बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) के पाठ्यक्रम

बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA)के कोर्स में स्टूडेंट को कई तरह के सब्जेक्ट्स को पढ़ाया जाता है हम आपको साथ इसके पाठ्यक्रम के बारे में बताएँगे आशा है ये  जानकरी आपके लिए उपयोगी होगी.

  • पर्यावरण अध्ययन पारिस्थितिकी, पर्यावरण और पर्यटन
  • फीचर लेखन अंग्रेजी में फिउंडेशन कोर्स
  • भारत का संक्षिप्त इतिहास
  • विज्ञान और प्रौद्योगिकीमें फाउन्डेशन कोर्स
  • पर्यटनमें फाउन्डेशन कोर्स
  • मानविकी और सामाजिक विज्ञान में फाउन्डेशन कोर्स
  • मानव पर्यावरण
  • आधुनिक भारतीय भाषाओँ जैसे हिंदी, बंगाली, पंजाबी आदि में से किसी एक में फाउन्डेशन कोर्स
  • भारतीय संस्कृति: पर्यटन लिए एक परिप्रेक्ष्य पर्यटन में प्रबंधन
  • पर्यटन विकास: उत्पाद, संचालन और मामले का अध्ययन
  • पर्यटन विपणन और पर्यटन प्रबन्धन

बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) के बाद सैलरी कितनी होती है?

बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) का कोर्स करने के बाद आपके दिमाग में भी आता होगा आपकी सैलरी आपके कम्पनी के प्रोफाइल, नौकरी के स्तर और अनुभव पर निर्भर है यदि आप कम्पनी में नए होगें और आपको कोई अनुभव नही होगा तो इस स्थिति में आपको 2-4 लाख रु साल के मिल सकते है समय के साथ साथ अनुभव होने पर यही सैलरी 4-7 लाख रूपये साल तक हो सकती है

बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) करने के क्या फायदे है?

यदि आप भारत में बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) कोर्स करते है तो इससे आपको कई सारे फायदे हो सकते है बैचलर ऑफ़ एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) कोर्स से होने वाले कुछ महत्वपूर्ण फायदे को हम आपके साथ यहाँ बताने जा रहें है

  • बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) का कोर्स करने के बाद आप टूरिज्म इंडस्ट्री में आप अपना करियर बनाकर एक बढ़िया रोजगार अपने लिए ले सकते है.
  • बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन पाठ्यक्रमआपको टूरिज्म एक्स्पेर्तिसे, मैनेजमेंट स्किल्स, मार्केटिंग और प्लानिंग की एक बहुत ही बेहतरीन जानकारी प्रदान करता है.
  • बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) का कोर्स करने के बाद आप विभिन्न सांस्कृतिक और भूगोलिक स्थानों के बारे में और अच्छे से जान सकते है इससे आपको एक नए तरह का अनुभव प्राप्त होगा.
  • बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) के बाद आपको जो नौकरी मिलता है उसके माध्यम से नए नए दोस्त बना सकते है.
  • बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन पाठ्यक्रम में टीम वर्क और प्रॉब्लम सोल्विंग एबिलिटी जैसे कौशल आपके अंदर विकसित हो सकती है.
  • बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) करने के बाद आपको जो जानकारी प्राप्त होता है उसके माध्यम से अपने खुद का व्यापार शुरू कर सकते है.
  • बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) का कोर्स के बाद आप दूसरे देशों में भी जॉब कर सकते है BTA का ये भी एक अच्छा फायदा है.

भारत में BTA कोर्स के लिए सबसे अच्छे कॉलेज :

भारत में कई सारे कॉलेज और संस्थान है जो बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) का कोर्स करवाते है यहाँ हम आपके साथ भारत में बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) कोर्स के लिए 10 श्रेष्ठ कॉलेज को बताने जा रहे है.

  • दिल्ली पर्यटन और और ट्रैवल टेक्नोलॉजी इंस्टीट्यूट, दिल्ली
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ टूरिज्म एंड ट्रैवल मैनेजमेंट, गुजरात
  • एम्पायर स्टेट ऑफ़ टूरिज्म एंड ट्रैवल मैनेजमेंट, उत्तराखंड
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टूरिज्म एंड हाटेल मैनेजमेंट, गोवा
  • राजस्थान पर्यटन विश्वविद्यालय, उदयपुर
  • उत्तरांचल पर्यटन अकादमी, देहरादून
  • कॉलेज ऑफ़ होम एकानामिक्स, पनजी, गोवा
  • एम्बेडकर इंस्टीट्यूट ऑफ़ होटल मैनेजमेंट, चंडीगढ़
  • इंदिरा गाँधी नेशनल ट्रेवल और टूरिज्म एकेडमी, नई दिल्ली
  • अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय, उत्तर प्रदेश

बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) करने के बाद भविष्य आप्शन :

बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) करने के बाद आपको कई सारे जगह पर भविष्य बनाने का अवसर मिलता है यहाँ आपके साथ कुछ महत्वपूर्ण भविष्य विकल्प बताने जा रहे है आशा है जानकारी आपको पसंद आयेगी

  • होटल मैनेजमेंट
  • ट्रेवल एजेंसी मैनेजमेंट
  • टूरिज्म आर्गेनाइजेशनस
  • इवेंट मैनेजमेंट
  • मार्केटिंग एंड प्रमोशन
  • ट्रेवल एंड टूर ऑपरेटर्स
  • फॉरेन टूरिज्म
  • ट्रेवल जर्नलिज्म
  • टूरिज्म एंटरप्राइज
  • आर्गेनाइजेशनल ऑर एडमिनिस्ट्रेटिव टास्कस
  • टूरिज्म रिलेटेड सर्विसेज

निष्कर्ष :

मुझे आशा है कि बैचलर ऑफ़ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन (BTA) की जानकारी आपको पसंद आयी होगी इससे संबन्धित कोई भी प्रश्न के लिए या और भी सब्जेक्ट से रिलेटेड जानकरी के लिए हमे कामेंट में जरूर बताये

Leave a Comment